यूएनजीए (UNGA) में भारत आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन, कोरोना रौधी, वैक्सिंग की उपलब्धता हिंदी प्रशांत एवं संयुक्त राष्ट्र में सुधार जैसे वैश्विक मुद्दे उठाएगा।

विश्व के सर्वोच्च निकाय में भारत के स्थाई प्रतिनिधि टीएस तिरूमूर्ति ने कहां की कोविड-19 हमारी और अफगानिस्तान के घटनाक्रम संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76 वे सत्र में प्रभावी रहने के आसार हैं।

India will raise the issue of climate change

तिरुमूर्ति ने कहा कि कोविड-19 महामारी और इसके मानवीय प्रभाव के अलावा अन्य मुद्दे सत्र के उच्च स्तरीय हिस्से में प्रभावी रह सकते हैं इन मुद्दों में वैश्विक आर्थिक मंदी, आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन, पश्चिम एशिया और अफ्रीका में जारी संघर्ष, अफगानिस्तान में हाल के घटनाक्रम और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सुधार में शामिल होंगे।

India will raise the issue of climate change and terrorism

इस वर्ष का संयुक्त राष्ट्र सभा (यू एन जी ए) सत्र 14 सितंबर से शुरू हो चुका है अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन द्वारा 21 सितंबर को विश्व के नेताओं को संबोधित करने के साथ ही उच्च स्तरीय आम बहस शुरू हो जाएगी। पीएम मोदी 25 को संबोधित करेंगे