28 लोग घायल, परिसर में मौजूद सभी भारतीय छात्र सुरक्षित

मास्को (एपी)। रूस की पर्म स्टेट यूनिवर्सिटी में सोमवार को गोलीबारी की घटना में 8 लोगों के मारे जाने और 28 के घायल होने की खबर है। गोलीबारी की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस के साथ मुठभेड़ में हमलावर घायल हो गया।

International Highlights Firing at Russian University

उसे गिरफ्तार कर इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हमलावर के उद्देश्य का अभी पता नहीं चला है और ना ही किसी संगठन ने घटना की जिम्मेदारी है। प्रेट्र के अनुसार यूनिवर्सिटी परिसर में मौजूद सभी भारतीय छात्र सुरक्षित हैं।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार काली पोशाक और काला हेलमेट पहने हमलावर ने लंबी नली वाली राइफल से यूनिवर्सिटी में घूम घूम कर फायरिंग की। इस दौरान बहुत से छात्रों और स्टाफ ने खुद को कमरे में बंद कर लिया।

कुछ छात्र खुद को बचाने के लिए दो मंजिला यूनिवर्सिटी बिल्डिंग की खिड़कियों से नीचे कूद गए। छात्रों और स्टाफ ने घटना के वीडियो बनाकर न्यूज़ साइट को भेजे हैं और इंटरनेट मीडिया पर पोस्ट किए हैं।

मौके पर सबसे पहले ट्रैफिक पुलिस की यूनिट पहुंची। उसने उपलब्ध साधनों से हमलावर को काबू करने की कोशिश की। हमलावर ने इस यूनिट के जवानों पर फायरिंग कर दी लेकिन जवाबी गोलीबारी में वह घायल हो गया। इसी के बाद पुलिस ने उसे काबू में कर लिया।

पुलिस को शक है कि हमलावर ने शिकार करने का उद्देश्य बताकर हथियार का लाइसेंस लिया है। रूस में हथियार रखने का सख्त कानून है। लेकिन बहुत सारे लोगों ने जंगली जानवरों का भय दिखाकर राइफल बंदूको के लाइसेंस ले रखे हैं मामले में जांच जारी है।

राजधानी मास्को में करीब 1100 किलोमीटर दूर पर्म शहर में स्थित इस विश्वविद्यालय में 12000 छात्र पढ़ते हैं। लेकिन घटना के समय केवल 3 हजार लोग ही परिसर में मौजूद थे। छात्रों और स्टाफ की कम मौजूदगी का बड़ा कारण आसपास के इलाकों में कोरोना संक्रमण की स्थिति है।

इससे पहले मई में कजान शहर के एक स्कूल में बंदूकधारी ने लाइसेंसी हथियार से फायरिंग की थी। इस घटना में 7 छात्र और 2 शिक्षकों की मौत हो गई थी।